खाने, खिलाने व स्वाद के दीवानों का अपनत्व वाला शहर है बीकानेर

Khichda
शेयर करे

अलमस्त शहर बीकानेर के लोग खाने में जॉयका पसन्द करते है, जायका और स्वाद लेना यानि उसके टेस्ट को समझना तो कोई इस शहर से सीखे। यहां के लोग खाने के बहुत शौकीन है भुजिया पापड़,कचोड़ी,रबड़ी और मलाई रोज ताजा बनते है और रोज रात 10 बजे तक करीब करीब खत्म हो जाते है। खीचिए और भुजिया देर रात 3 बजे तक उपलब्ध हो जाते है लेकिन यहां शहर परकोटे में लोगों को जितना खाने का शौक़ है उससे कहीं अधिक उन्हें खिलाने का शौक है, पैसे लगाकर खिलाना और…

शेयर करे
Read More

मौसम और राशन पर ख्याल बनाने व रम्मत के लिये प्रसिद्ध शहर

Bissa chowk bhairav mandir
शेयर करे

बिस्सो का चौक बीकानेर शहर यात्रा(5) संजय श्रीमाली, उस्ताबारी, बीकानेर। बिस्सों के चौक में बिस्सा जाति के बाहुल्य के कारण इस चौक का नाम बिस्सों का चौक हुआ। बिस्सा जाति के लो बीकानेर की बसावट के समय से ही यहां आकर बसने प्रारम्भ हो गये। पोकरण के पास ‘बीला’ गांव से काम की तलाश में यहां आना प्रारम्भ हुए। बिस्सों के चौक में रहने वाले लोगों का मुख्य कार्य रसोई बनाना तथा खाता-बही का कार्य करना था। बिस्सों के चौक का क्षेत्रफल बहुत कम है। बिस्सों के चौक के पूर्व…

शेयर करे
Read More

पाटों पर रात को भविष्य देखने वाला शहर

Bhatdo ka chowk bikaner
शेयर करे

बीकानेर शहर यात्रा(4) भट्ठड़ों का चौक -संजय श्रीमाली, उस्ता बारी, बीकानेर। बीकानेर शहर परकोटा ज्योतिषियों पंडितों के लिये भी जाना जाता है लेकिन रात को पाटे पर बैठकर कुण्डली देखने की बात आए तो समझ लीजिये भट्ठड़ों के चौक की बात हो रही है । भट्ठड़ों के चौक का पुराना नाम पिपलियों का चौक था। लगभग 100 वर्ष पहले चौक के बीचो-बीच बहुत बड़ा पीपल का पेड़ था जिसके कारण यह पीपलियों के चौक के नाम से प्रसिद्ध हुआ। इस चौक में भट्ड जाति के लोगों के घर अधिक थे…

शेयर करे
Read More

पुरुष से भी अधिक महिला को सम्मान देने वाला शहर

Marunayak Chowk Shiv Temple Jain Temple Bikaner
शेयर करे

मरुनायक चौक बीकानेर शहर यात्रा(3) -संजय श्रीमाली, उस्ता बारी, बीकानेर। नाटेश्वर महादेव जहाँ पार्वती महादेव से आगे। मरूनायक चौक को मंदिरों का चौक कहे तो कोई अतिशयोक्ति नहीं होगी हर शिव मन्दिर में शिवलिंग के पीछे पार्वती की मूर्ति होती है या कई जगह शिव मूर्ति के साथ बराबर में पार्वती की मूर्ति होती है,लेकिन बीकानेर शहर के मरुनायक चौक में ऐसा शिव मंदिर है जहां मन्दिर में शिव लिंग से पहले मां पार्वती की मूर्ती है, यानि आगे है। आज के युग में महिला सम्मान व समानता की बात…

शेयर करे
Read More

दानवीर व रंगबाजों का शहर- दम्माणी चौक बीकानेर

Dammani chowk Bikaner History
शेयर करे

बीकानेर शहर यात्रा (2) दानवीर व मनमौजी सेठों की रंगबाजियों के किस्सों के लिए प्रसिद्ध रहा है दम्माणी चौक। छतरी वाला पाटा और चौक को फ़िल्म यादगार में दिखाया गया फ़िल्म का गाना इसी चौक में फिल्माया गया। शहर के सबसे चहल-पहल वाले चौकों में दम्माणी चौक छतरी के पाटे तथा घर की छत पर छतरी हेतु प्रसिद्ध है। शहर के पुराने चौको में से दम्माणी चौक भी है जो कि 300-400 वर्षों का इतिहास अपने में समेटे हुए है। दम्माणी चौक में ज्यादातर दम्माणी (माहेश्वरी) जाति के लोग तथा…

शेयर करे
Read More