सियाणा भैरव मेला वीडियो

शेयर करे

बीकानेर से लगभग 60 किलोमीटर दूर स्वर्णाकर्षण भैरव सियाणा गाँव में मंदिर है जहाँ हज़ारों लोग पैदल, दंडवत करते हुए सियाणा पहुंचते है कई संस्थाएं अपनी सेवाएं देती है। भैरव मंदिर में जात झड़ूलें उतरते है यहाँ आने वाले भक्तों की मनोकामना पूरी होती है। कलियुग में भैरव सबसे जल्दी फल देने वाले देवता माने जाते है।

शेयर करे
Read More

भैरव तुम्बड़ी सम्मान हुवा वरिष्ठ स्वयंसेवकों का सम्मान

शेयर करे

रमक झमक संस्था द्वारा सियाणा भैरव के अनन्य भक्त स्वर्गीय पंडित छोटू लाल ओझा की स्मृति में भैरव तुम्बड़ी सम्मान समारोह मोती मानस भवन में आयोजित किया गया ।इस तुम्बड़ी सम्मान में भैरुनाथ के भक्त एवं स्वयंसेवक बुलाकीदास ओझा फुटरी महाराज, श्यामसुंदर छंगानी शेर महाराज, नंदलाल छंगाणी, मोतीलाल छंगाणी, दाऊलाल ओझा, शंकर लाल व्यास का शॉल, श्रीफल,माला, भैरव पुस्तक व भैरव नाथ का फोटो देकर रामदेव सेवा प्रन्यास के अधिष्ठाता संत भावनाथ महाराज, मनु भाई जी, एडवोकेट ओम भादाणी व पूर्व प्राचार्य ओंकारलाल व्यास ने सम्मानित किया। मेवा मिश्री से…

शेयर करे
Read More

सियाणा भैरव तूमड़ी भजन

शेयर करे

सियाणा भैरव तूमड़ी भजन वीडियो लेखक – स्व भैरव भक्त छोटूलाल जी ओझा गायक – आर के सुरदासानी संगीत – चंद्रेश दिवाकर

शेयर करे
Read More

सियाणा मेला मार्ग में लगाए संकेतक, हटवाए कांटे

शेयर करे

सियाणा मेला मार्ग में रमक झमक ने लगाए संकेतक,हटवाए कांटे । बीकानेर ।सियाणा भैरव मेले के लिए कच्चे मार्ग में पैदल यात्रियों की सुविधा के लिए रमक झमक संस्था की टीम ने हाड़ला प्याऊ से मोखड़ा गांव होते हुए सियाणा गांव तक रास्ते में रेडियम से संकेतक लगाए हैं । संकेतक के रूप में जय भैरनाथ व रमक झमक के स्टीकर लगाए गए हैं जहां खंबे या पेड़ नहीं है और रास्ता भटकने की गुंजाइश है वहां झाड़ियों पर रेडियम टेप लगाया गया है। रमक झमक के अध्यक्ष प्रहलाद ओझा…

शेयर करे
Read More

भैरव तुम्बड़ी सम्मान 1 सितंबर को

शेयर करे

‘भैरव तुम्बड़ी सम्मान 2019’ इस बार दो स्वयं सेवकों को। रमक झमक संस्था द्वारा सियाणा भैरव भक्त तुम्बड़ी वाले बाबा स्वर्गीय पंडित छोटूजी ओझा स्मृति ‘भैरव तुम्बड़ी सम्मान 2019’ इस बार दो सेवकों को दिया जाएगा। बीकानेर शहरी क्षेत्र में भैरव भक्तों की सेवा करने वाले,पैदल यात्रियों का नेतृत्व व निर्देशन करने वाले वरिष्ठ भैरव भक्त श्याम सुंदर छंगाणी उर्फ शेर महाराज को व सियाणा गांव में मेले पर हजारों श्रद्धालुओं की सेवा करने में अग्रणी परिवार स्वर्गीय ठाकर गुमान सिंह सांखला की 75 वर्षीय पत्नी ठकुराईन श्रीमती भंवरी देवी…

शेयर करे
Read More