राजस्थान

बीकानेर का कुंभ मेला

हर वर्ष कार्तिक पूर्णिमा के दिन कपिल मुनि कोलायत का मेला भरता है लेकिन इस बार कोरोना के चलते इसे रद्द कर दिया गया है लेकिन हम हमारे यूट्यूब चैनल के माध्यम से कोलायत की ऐसी जानकारी लेकर आये है जो सायद ही आपको मालूम हो। भारत मे कपिल मुनि के कितने मंदिर है ? बीकानेर के कोलायत का कपिल मुनि मंदिर सबसे खास महत्व क्यो रखता है ? यह मंदिर कब और किसके द्वारा बनाया गया था ? यहाँ ...
Read More

मरुस्थलीय सब्जी में मौजूद है कोरोना रोकने वाले एंजाइम

थार रेगिस्तान और सब्जियां हमारे पश्चिमी राजस्थान की भौगोलिक स्थितियां कुछ ऐसी रहीं है कि पहले आसानी से हरी सब्जियां उपलब्ध नही हो पाती थी कारण था पानी की कमी! तब गंगनहर नहीं आयी थी और थार रेगिस्तान के वासियों को पानी की कमी में ही गुजारा करना होता था जहां पीने के पानी तक की कमी हो ऐसे में हरी सब्जियां तो बहुत दूर की कौड़ी थी और इनको उगाना व्यवहारिक नहीं था। ऐसे में कुछ ही ऐसे पेड़ ...
Read More
Kan wale ganesh ji

भारत एकमात्र गणेश मंदिर जो राजस्थान के बीकानेर में है

भारतवर्ष में कई ऐसे प्राचीनतम मंदिर अनोखे मंदिर है जो अपनी एक अलग विशेषताओं के लिए पूरी दुनिया में पहचान रखते है ऐसे ही एक मंदिर राजस्थान के बीकानेर जिले में है जहां भक्त गणेश भगवान के निज मंदिर में प्रवेश कर उनके कानों में अपनी मनोकामना बोलते है और उनकी इच्छा पूरी भी होती है इस गणेश जी मंदिर का नाम है कान गणेश जी मंदिर कई लोग इसे कान वाले गणेश जी भी कहते है। यह मंदिर राजस्थान ...
Read More
Bikaner dev kund sagar

बीकानेर के देवी कुंड सागर का चमत्कारी सती माता मंदिर जहां खंभों से आज भी बहता है दूध

बीकानेर का देवी कुंड सागर जो यहां से लगभग 10 किलोमीटर की दूरी पर गडसीसर गांव के पास स्थित है बीकानेर राजवंश का श्मशान घाट कहा जाता है। बीकानेर के पूर्व राजाओं महाराजाओं रानियों का अंतिम संस्कार इसी जगह पर किया गया वह जिस जगह पर उनका दाह संस्कार किया गया उसी जगह पर एक छतरी बना दी गई। यहां महाराजा गंगा सिंह जी की पत्नी वल्लभ कुंवर देवी की भी छतरी है जिसे 'दूध झरने वाली छतरी' भी कहा ...
Read More
गणगौर के गीत

गणगौर में सुबह गाए जाने वाले गीत देखें

गणगौर सुबह के गीत - उठी - उठी- उठी - उठी गवर निन्दाड़ो खोल निन्दाड़ो खोल , सूरज तपे रे लिलाड़ एक पुजारी ऐ बाई म्हारी गवरजा , गवरजा , ज्यों रे घर रे टूठे म्होरी माय अन्न दे तो धन दे , बाई थरि सासरिये , पीवरिये , अन्न धन भया रे भण्डार ! डब्बा तो भरिया ए बाई थारे गैनों सु गोंठो सु, माणक मोती तपे रे लिलाड़, उठी - उठी गवर निन्दाड़ो खोल निन्दाड़ो खोल.. खोल कीवाडी- ...
Read More
Gangaur ke geet

देखें वे गीत जो गणगौर में दोपहर के समय गाए जाते है

गणगौर में दोपहर में गाए जाने वाले गीत - नौरंगी गवर म्हारी चाँद गवरजा , भलो ए नादान गवरजा रत्नों रा खम्भा दीखे दूर सू , बम्बई हालो , लाखों पर लेखण पूरब देश में , कलकते हालो , गवरयो री मोज्यों बीकानेर में गढ़न कोटां सूं उतरी सरे , हाथ कमल केरो फूल शीश नारेळां सारियो सरे , बीणी बासक नाग रे | | बम्बई . . . बम्बइ . . . . . (1) चोतीणे रा चार चाकलिया ...
Read More
Dhinga gavar mata panthwadi mata

धींगा गवर और पंथवाडी माता की कथा व कहानियां

धींगा गवरजा की कहानी ( मोम की गुडीया ) कैलाश पर्वत पर शिव - पार्वती बैठा था चैत्र माह शुरु होते ही " गवरजा " रा " बालीकाओं कन्याओं " द्वारा पूजण शुरु हो गया । पार्वती शिवजी सू बोली कि मैं भी म्हारे पिहर जावणो चाहू , आप हुकम करो तो । महादेव जी बोल्या , म्हारी भांग घोटण री व्यवस्था कूण करसी जने पार्वती व्यवस्था रे रूप में एक मोम री गुडिया बनाई और आपरी शक्ति सू उसमें ...
Read More
Gangaur mata aarti

गणगौर माता की आरती

गवरजा माता की आरती ( तर्ज - सांवरसा गिरधारी ) आंगणियों हरखाओ , बधावो रामा , आंगणियों हरखायो , माँ गवरजा पधारी , माता गिरिजा पधारी . देखो शैलजा पधारी , हरख मनावो ढम - ढम ढोल नगाड़ा बाजे , आभो गरजे बिजळी नाचे , ओ कुण शंख बजावे , बधावो रामा , ओकण शंख बजावे । माँ गवरजा । । 1 । । रुण - झुण , रुण - झुण पायल बाजे , सात सुरों में मनड़ो गावे , ...
Read More
bikaneri bhujiya ka avishkar

भुजिया के अविष्कार की पूरी कहानी जानिए

बीकानेर का भुजिया विश्व प्रसिद्ध है और इसको सबसे पहले बीकानेर में ही बनाया गया था आज बीकानेर के हल्दीराम बीकाजी और अन्य कई ऐसे ब्रांड है जो भुजिया नमकीन मिठाई विदेशो में भी एक्सपोर्ट करते है। तो आज आप जानिए कैसे सबसे पहले हुई थी शुरुआत ...
Read More
bikaner top tourist places

ऐसी 20 वजह जिसके कारण बीकानेर शहर पूरी दुनिया में विख्यात है

बीकानेर स्थापना दिवस पर विशेष रूप से आप सबके लिए ऐसी जानकारी लेकर आये है जो शायद आपको मालूम नहीं है बीकानेर में दुनिया की ऐसी जगह और शहर से जुड़े ऐसे तथ्य जो सिर्फ बीकानेर से जुड़े है ऐसे चीज़े जो सिर्फ बीकानेर में है और दुनिया में कहीं नहीं तो जरूर देखिये ये वीडियो जो आपको जरूर पसंद आएगा ...
Read More