Home

शेयर करे

नई अपडेट

  • जानिये कैसे हुआ बीकानेर भुजिया का अविष्कार
    जानिये कैसे हुआ बीकानेर भुजिया का अविष्कार
    बीकानेर में छोटी सी दुकान से शुरुआत देखें पूरी कहानी क्लिक करें
  • ऐसी वजह जिसके कारण बीकानेर शहर पूरी दुनिया में विख्यात है
    ऐसी वजह जिसके कारण बीकानेर शहर पूरी दुनिया में विख्यात है
    ऐसी वजह जिसके कारण बीकानेर शहर पूरी दुनिया में विख्यात है
  • DEVI KUND SAGAR BIKANER
    DEVI KUND SAGAR BIKANER
    SATI MATA KI CHHATRI
  • Kaan Ganesh ji Temple
    Kaan Ganesh ji Temple
    Kaan Ganesh ji Temple
  • चमत्कारी भैरव के चमत्कार देखिए
    चमत्कारी भैरव के चमत्कार देखिए
    मंदिर का इतिहास पूरी डिटेल में
  • जानिये  बीकानेर के बारे में क्लिक कीजिये
    जानिये बीकानेर के बारे में क्लिक कीजिये
    बीकानेर देश और दुनिया से कैसे अलग है क्लिक कीजिये
  • एक ताने से बसा पूरा शहर Bikaner Specialties
    एक ताने से बसा पूरा शहर Bikaner Specialties
    एक ताने से बसा पूरा शहर Bikaner Specialties

वीडियो

Play
Play
Play
Play
Play
Play
Play
Play
Play
Play
Play
Play
Play
Play
Play
Play
Play
Play
Play
Play
Play
Play
Play
Play
Play
Play
Play
Play
previous arrow
next arrow
previous arrownext arrow
Slider

 

बीकानेर में होली खेलने से पहले लेते है मां नागणेची से स्वीकृति

पहले माँ भगवती खेलती है होली, फिर बीकानेर शहरवासी इस शहर में होली पूरे 8 दिन खेली जाती है। शहर के लोग एकत्रित होकर फाल्गुन शुक्ला सप्तमी (खेल सप्तमी) को माँ भगवती नागणेची के दरबार पहुचते है और सबसे पहले भगवती को होली खेलाकर उन्हें रिझाते है और प्रार्थना करते है कि आज 8 दिन लगातार उन्हें होली खेलने की इजाजत दे और इस दौरान शहर में शांति सद्भाव बना रहे और आनन्द की बयार बहती रहे। भक्त अपने भाव ...
Read More

शिव पुराण के अनुसार जानिए महाशिवरात्रि कथा और महत्व

महाशिवरात्रि क्यों मनाई जाती है इस दिन क्या हुआ था इसके बारे अलग अलग मत माने जाते है । कई जगह भगवान शिव के विवाह और कई जगह शिव भगवान के प्राकट्य दिवस के रूप में मनाया जाता है। चेन नाथ जी धुणा शिव मंदिर के योगी विलासनाथ जी ( शिव सत्यनाथ जी महाराज के शिष्य ) ने बताया कि भगवान शिव के मुख्य पुराण ' शिव पुराण ' में कहीं भी इस दिन भगवान शिव के विवाह का उल्लेख ...
Read More
Bikaner dev kund sagar

बीकानेर के देवी कुंड सागर का चमत्कारी सती माता मंदिर जहां खंभों से आज भी बहता है दूध

बीकानेर का देवी कुंड सागर जो यहां से लगभग 10 किलोमीटर की दूरी पर गडसीसर गांव के पास स्थित है बीकानेर राजवंश का श्मशान घाट कहा जाता है। बीकानेर के पूर्व राजाओं महाराजाओं रानियों का अंतिम संस्कार इसी जगह पर किया गया वह जिस जगह पर उनका दाह संस्कार किया गया उसी जगह पर एक छतरी बना दी गई। यहां महाराजा गंगा सिंह जी की पत्नी वल्लभ कुंवर देवी की भी छतरी है जिसे 'दूध झरने वाली छतरी' भी कहा ...
Read More

षट्तिला एकादशी व्रत कथा

भगवान विष्णु और श्रीकृष्ण की पूजा को समर्पित षटतिला एकादशी 20 जनवरी 2020 दिन सोमवार को है। इस दिन विधिपूर्वक व्रत करने और भगवान की पूजा करने से धन-धान्य और समृद्धि की प्राप्ति तो होती है, व्यक्ति को नर्क से मुक्ति के साथ मोक्ष भी मिलता है। उस व्यक्ति को मृत्यु के पश्चात वैकुण्ठ की प्राप्ति भी होती है। षटतिला एकादशी के पूजा, स्नान आदि के समय काले तिल का प्रयोग अनिवार्य माना गया है। षटतिला एकादशी के दिन व्रत ...
Read More
Kan wale ganesh ji

भारत एकमात्र गणेश मंदिर जो राजस्थान के बीकानेर में है

भारतवर्ष में कई ऐसे प्राचीनतम मंदिर अनोखे मंदिर है जो अपनी एक अलग विशेषताओं के लिए पूरी दुनिया में पहचान रखते है ऐसे ही एक मंदिर राजस्थान के बीकानेर जिले में है जहां भक्त गणेश भगवान के निज मंदिर में प्रवेश कर उनके कानों में अपनी मनोकामना बोलते है और उनकी इच्छा पूरी भी होती है इस गणेश जी मंदिर का नाम है कान गणेश जी मंदिर कई लोग इसे कान वाले गणेश जी भी कहते है। यह मंदिर राजस्थान ...
Read More

 

 

 

शेयर करे
Facebook Page
Facebook By Weblizar Powered By Weblizar

Copyright © 2015. All Rights Reserved.