Home

शेयर करे

अगर नवरात्र में प्रतिदिन पूजा और व्रत करने में असमर्थ हो तो क्या करें

हमारे धर्म में नवरात्र में पूजा और व्रत को पृथ्वी लोक में जितने भी प्रकार के व्रत एवं दान हैं उससे भी बढ़कर बताया गया है । क्योंकि यह व्रत सदा धन-धान्य प्रदान करने वाला तथा सुख संतान की वृद्धि करने वाला है। देवी भागवत पुराण में नवरात्र के दिनों में देवी पूजन को आयु में वृद्धि तथा आरोग्य प्रदान करने वाला बताया गया है । यही नही बल्कि अगर कोई भक्त देवी की पूजा , व्रत बड़े ही भक्ति ...
Read More

श्री राम ने भी किया था नवरात्रा में नौ दिन देवी का व्रत

नवरात्र में व्रत के महत्व का अनुमान इसी से लगाया जा सकता है स्वयं भगवान श्री राम ने भी पूरे 9 दिन देवी का विधिपूर्वक व्रत और पूजन किया था। भगवान श्री राम और लक्ष्मण वनवास के दौरान सीता माता के हरण हो जाने की बात से बहुत चिंतित थे। श्री राम और लक्ष्मण परस्पर परामर्श कर ही रहे थे कि आकाश मार्ग से देवऋषि नारद मुनि वहाँ पहुँचे। जब व्याकुल हुए राम चिंतित और व्याकुल हुए श्री राम को ...
Read More

नवरात्रि- कुमारी कन्याएं कौन कहलाती है जानिए हर उम्र की कन्या का महत्व

नवरात्र में व्रत और कुमारी कन्याओं के पूजन का विशेष महत्व है । भारतवर्ष में नवरात्रि के दिन लगभग हर घरों में इस दिन कन्याओं को भोजन करवाया जाता है और उन्हें उपहार स्वरूप कुछ चीजें भेंट की जाती है। कहीं 9 कन्याओं को एकसाथ भोजन करवाया जाता है तो कहीं रोजाना 9 कन्याओं या 1 कन्या को रोज भोजन करवाया जाता है। इस दौरान हम कई प्रश्नों से अनजान रह जाते है कि किस वर्ष तक कि कन्या का ...
Read More

मरुस्थलीय सब्जी में मौजूद है कोरोना रोकने वाले एंजाइम

थार रेगिस्तान और सब्जियां हमारे पश्चिमी राजस्थान की भौगोलिक स्थितियां कुछ ऐसी रहीं है कि पहले आसानी से हरी सब्जियां उपलब्ध नही हो पाती थी कारण था पानी की कमी! तब गंगनहर नहीं आयी थी और थार रेगिस्तान के वासियों को पानी की कमी में ही गुजारा करना होता था जहां पीने के पानी तक की कमी हो ऐसे में हरी सब्जियां तो बहुत दूर की कौड़ी थी और इनको उगाना व्यवहारिक नहीं था। ऐसे में कुछ ही ऐसे पेड़ ...
Read More

शिव पुराण के अनुसार जानिए महाशिवरात्रि कथा और महत्व

महाशिवरात्रि क्यों मनाई जाती है इस दिन क्या हुआ था इसके बारे अलग अलग मत माने जाते है । कई जगह भगवान शिव के विवाह और कई जगह शिव भगवान के प्राकट्य दिवस के रूप में मनाया जाता है। चेन नाथ जी धुणा शिव मंदिर के योगी विलासनाथ जी ( शिव सत्यनाथ जी महाराज के शिष्य ) ने बताया कि भगवान शिव के मुख्य पुराण ' शिव पुराण ' में कहीं भी इस दिन भगवान शिव के विवाह का उल्लेख ...
Read More

 

 

 

शेयर करे