दुर्घटना में घायल लोगो की मदद और ब्लड की आवयश्कता को पूरा करने तुरंत पहुँचती है इनकी टीम

फेसबुक वॉट्सएप पर ब्लड कि आवश्यकता व दुघर्टना से संबंधित वाले मेसेज आए दिन सर्कुलेट होते रहते है, जिसमें कुछ मदद चाहने वाले और कुछ मदद करने वालो की लिस्ट डी गई होती है ऐसे में कुछ सही तो कुछ ग़लत भी होते है पर आज हम आपको इस वीडियो के और वेबसाइट के माध्यम से ऐसे लोगों की टीम व उनकी संस्था के बारे में बताएंगे जो ट्रॉमा सेंटर में किसी मदद या ब्लड की जरूरत को पूरा करवाने में सहयोग करते है ।
आज जो हम सहायता करने वाली समिति के बारे में बताने जा रहे है उसका नाम है मारवाड़ जन सेवा समिति।

हमने समिति के कार्यों को सुना और जाना साथ ही समिति के अध्यक्ष और महासचिव से भी बात की जो वीडियो में आप देख सकते है।

बीकानेर जिले की पीबीएम ट्रॉमा सेंटर में सैकड़ों लोग बीकानेर के अलावा गंगानगर चूरू हनुमानगढ़ से भी इलाज करवाने आते है यहां तक कि हाईवे पे होने वाली दुघर्टनाओं में घायल लोगो को ट्रॉमा सेंटर ही रेफर किया जाता है ऐसे में उनके परिवार के लोगों के पहुंचने से पहले ही जो सबसे पहले मदद को पहुंच जाते है उनकी टीम का नाम है मारवाड़ जन सेवा समिति।
समिति के अध्यक्ष रमेश व्यास बताते है कि Accident कि सूचना मिलते ही मौके की जगह पर पहुंचना हो या किसी को ब्लड कि आवश्यकता को पूरा करवाना हमारी टीम पूरा उनका सहयोग करती है। 30 से ज्यादा बार स्वयं ब्लड डोनेट कर चुके रमेश व्यास समय समय पर ब्लड डोनेट शिविर भी लगवाते रहते है।

महासचिव हरिकिशन राजपुरोहित बताते है कि ट्रॉमा सेंटर में आने वाले कई केस में देखते है कि हड़बड़ी या दुख की घड़ी में परिजनों को हॉस्पिटल से संबंधित क्या कार्यवाही करनी है या ब्लड कि व्यवस्था कैसे करनी है ये समझ नहीं आता ऐसे में मारवाड़ सेवा समिति के सदस्य उनके साथ जाकर उनका पूरा सहयोग करते है।

इसके अलावा भी समिति जन सहयोग से रेनबसेरा लगवाना उनके लिए चाय नाश्ता पानी की व्यवस्था करना, दिव्यांगो के लिए व्हील चेयर कि व्यवस्था करवाते है, जरूरतमंद को बाहर से दवाई कि आवश्यकता पड़ती है तो इसका खर्चा वहन भी करते है, इसके अलावा अस्पताल में मरीजों के लिए जरूरत पड़ने वाली मशीनरी भी उपलब्ध करवाते है।

कमलकिशोर जोशी बताते है कि दुघर्टना कि सूचना मिलते ही पूरी टीम घायल लोगों की मदद करने पहुंचती है और ट्रॉमा सेंटर में घायलों कि हर संभव मदद हमारी समिति करती है।

हमने बातचीत में पाया कि समिति से जुड़े लोग ट्रॉमा सेंटर में सहयोग के लिए उपलब्ध रहते है इसके अलावा इनको सूचना मिलने पर ये तुरंत आ जाते है और अनजान अज्ञात लोगों को साथ जाकर उनकी सहायता करते है।

इसी तरह के वीडियो और इस समिति की जानकारी हमने अपने यूट्यूब चैनल ramak jhamak कॉन्टैक्ट नंबर सहित दे दी है आप हमारे चैनल को subscribe कर सकते है।

अगर किसी को ऐसी आवश्यकता पड़ती है तो आप इनसे संपर्क कर सकते है हमने इनके नंबर वीडियो में उपलब्ध करवा दिए है।
हम आगे भी सेवा और संस्कृति से जुड़े वीडियो आपतक पहुंचाते रहेंगे।

By-

राधेकृष्ण ओझा
8003379670

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Facebook Page
Facebook By Weblizar Powered By Weblizar

Copyright © 2015. All Rights Reserved.